No icon

मिशन भगवा

केंद्र में भाजपा की दूसरी बार सरकार की नीव में लाखो स्वम सेवको का तप

दिल्ली

       दिल्ली में दूसरी बार पूर्णबहुमत सरकार कोई एक दिन का चमत्कार नही है बल्कि संगठन में जुटे लाखो करोड़ो स्वमसेवक और कार्यकर्ताओं की मेहनत का फल है। भाजपा की प्रदेशो से सरकार जाने आने से भाजपा के ग्राफ का आंकलन नही किया जा सकता क्योंकि भाजपा अभी जवान हो रही है और कांग्रेस बूढ़ी हो चुकी है। 

भाजपा आज असम जैसे पूर्वोत्तर राज्यो में सरकार बना चुकी है दक्षिण के द्वार कर्नाटक के माध्यम से खोल दिये हैं। बंगाल में मजबूत दस्तक दे चुकी है।यह कोई चमत्कार या किसी दल की विफलता के कारण नही है, ये सभी बातें कारण हो सकती हैं परंतु कारक नही है।

इसके पीछे लाखो करोड़ो स्वम सेवको व कार्यकर्ताओं की निस्वार्थ सेवा है। असम बंगाल केरल जैसे राज्य इसका उद्धाहरण है।यहाँ कार्यकर्ता दशको से संगठन के कार्य मे लगे हुए हैं।कार्यकर्ता पिटता है उसकी हत्या होती है, मगर वो सतत लक्ष्य की ओर बढ़ता रहता है। इसके लिए पार्टी चुनाव लड़ती है हारती है विजयी होती है परंतु मंच माला की परवाह किये बिना स्वमसेवक निरन्तर लगा रहता है।भाजपा कहीं विजयी होती है तो नये नये समीकरण रखे जाते है चेहरे बताये जाते है परंतु सत्य यह होता है कि वो केवल चेहरा होते हैं।अभी कुछ समय पूर्व बयान आया कि कॉंग्रेस अपना कैडर सेवा दल खड़ा करेगी कुछ कार्यक्रम में सफेद कपड़ो में सफेद टोपी लगाए फोटो भी खिंचे गये मगर इससे ज्यादा कुछ नही हुआ।इसके विपरित भाजपा का संगठन संघ की छांव में सदा कार्यकर्ता निर्माण में लगा रहता है। आज भाजपा जिस मुकाम पर है उसके पीछे संघ और उसके स्वमसेवक ही है।संघ का कार्यकर्ता कभी सत्ता पद की चाह किये बिना लक्ष्य की और बढ़ता रहता है।यही कारण है कि हारजीत का उस पर कोई प्रभाव नही होता। भाजपा जब किसी राज्य में हारती है तो कहा जाता है कि उसका ग्राफ गिरा है लेकिन ऐसा नही है क्योंकि भाजपा अभी किशोर अवस्था मे अभी गिरेगी सम्भलेगी।जिस दिन जवान हो जाएगी वो खड़ी हो जायेगी।जिन राज्यो में नही है वहाँ समझने वाली बात यह है कि वहाँ उसका जन्म हो चुका है और स्वमसेवक व कार्यकर्ता उसकी परवरिश कर रहे हैं।

इसलिए किसी प्रदेश में उसकी हारजीत से उसका पूर्ण आंकलन नही किया जा सकता वो धीरे धीरे बढ़ रही है और एक दिन भारत विश्वगुरु बनेगा ।

जितेंद्र शर्मा

 

Comment As:

Comment (0)