No icon

अखिलेश यादव की सभा मे लगे जय श्रीराम के नारे, अखिलेश बोले दो दिन पूर्व मिली थी जान से मारने की धमकी

कन्नौज/लखनऊ

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शनिवार को खुलासा किया कि उन्हें दो रोज पहले फोन पर जान से मारने की धमकी मिली थी। श्री यादव ने यहां पार्टी कार्यालय में आयोजित महिला सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि दो दिन पहले उन्हें फोन पर जान से मारने की धमकी मिली थी, हालांकि इससे ज्यादा वह यहां कुछ नहीं कहेंगे। जल्द ही इसके बारे में विस्तृत जानकारी दी जायेगी। दरअसल, श्री यादव जब महिला सम्मेलन में अपनी पूर्ववर्ती सरकार की उपलब्धियों का बखान कर रहे थे कि इस बीच एक युवक ने चिल्लाते हुए सपा सरकार के विरोध में टिप्पणी की। इस पर पूर्व मुख्यमंत्री ने उसे आगे आकर अपनी बात कहने को कहा, जिस पर युवक आगे आने के बजाय जय श्रीराम के नारे लगाने लगा। युवक की हरकत से कुछ समय तक सभा में अफरा-तफरी का माहौल बन गया, हालांकि वहां मौजूद पार्टी कार्यकर्ताओं ने उसे पुलिस के हवाले कर दिया। घटना के बाद सपा अध्यक्ष ने कहा कि दो दिन पहले किसी ने काल करके उन्हें जान से मारने की धमकी दी थी, हालांकि इसका विस्तृत ब्योरा वह पत्रकारों को लखनऊ में देंगे। उन्होंने कहा कि पहले भी उनके साथ ऐसी घटनाये हो चुकी है। हो सकता है कि उन्हें ललकारने वाले युवक को किसी भाजपा वाले ने भेजा हो। इस बारे में सपा प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने लखनऊ में कहा 'यह विशुद्ध रूप से पार्टी का कार्यक्रम था, जिसमे अराजक तत्व प्रवेश कर गये थे। यह पूर्व मुख्यमंत्री की सुरक्षा में चूक का गंभीर मसला है। हालांकि पार्टी अध्यक्ष ने इस संबंध में मामला दर्ज कराने से मना कर दिया है, लेकिन यह पुलिस का काम है कि वह पता लगाये कि अमुक व्यक्ति सभा में कैसे प्रवेश कर गया। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के लोग अनैतिक तरीके से विपक्षी दलों के नेताओं को धमकाते हैं। उन्हे लोकतांत्रिक व्यवस्था पर यकीन नहीं है। सपा अध्यक्ष पहले भी फोन पर अपमानजनक टिप्पणियां और धमकियों का सामना कर चुके हैं। दो रोज पहले की घटना का जिक्र उन्होने भरी सभा में किया भी है।

Comment As:

Comment (0)