No icon

iPhone यूजर्स की डाटा सुरक्षा से कोई समझौता नहीं: ऐप्पल

दुनिया की दिग्गज टेक्नोलॉजी कंपनी ऐप्पल ने कहा है कि वह आइफोन यूजर्स की निजी सूचना से किसी भी कीमत पर समझौता नहीं करेगी। कंपनी ने सीईएस-2020 में अमेरिका के फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (एफबीआइ) मामले में अपने फैसले का बचाव किया। एफबीआइ ने एक जांच में सहयोग मांगते हुए ऐप्पल से इसके दो आइफोन को अनलॉक करने की गुजारिश की थी, जिसे कंपनी ने ठुकरा दिया था।

ऐप्पल की ग्लोबल सुरक्षा निदेशक जेन हॉर्वाथ ने सुरक्षा से जुड़े सत्र में कहा कि किसी को भी इनक्रिप्शन में पहुंच देकर हम सुरक्षा से समझौता नहीं कर सकते। उन्होंने बताया कि एफबीआइ ने कंपनी को एक पत्र लिखकर दो आइफोन से सूचना हासिल करने में मदद मांगी थी। एफबीआइ को शक है कि इनसे पिछले वर्ष दिसंबर में फ्लोरिडा में हुई गोलीबारी के सबूत मिल सकते हैं। इस घटना में तीन लोगों की मौत हो गई थी। कंपनी इन फोन का इनक्रिप्शन तोड़ने के लिए राजी नहीं हुई थी।

गौरतलब है कि ऐप्पल पहले भी एफबीआइ को आइफोन अनलॉक करने में मदद देने से इन्कार कर चुकी है। 2016 में हुई एक गोलीबारी के बाद भी ऐप्पल से आइफोन अनलॉक करने की मांग की गई थी, जिसे कंपनी ने अस्वीकार कर दिया था। हॉर्वाथ ने कहा कि फोन में हमारी बहुत जरूरी और निजी जानकारियां होती हैं। इसके इधर-उधर होने से सूचनाएं चोरी हो सकती हैं, जिसकी बड़ी कीमत चुकानी पड़ती है। उन्होंने कहा कि हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि हमारे यूजर्स की निजी सूचनाएं किसी भी कीमत पर कोई और हासिल नहीं कर सके। 

Comment As:

Comment (0)